ICC World Cup 2019 : क्यों हैं धोनी अति महत्वपूर्ण – पांच कारण ??

MS Dhoni

महेंद्र सिंह धोनी भारतीय टीम की वो रीढ़ की हड्डी जिसके बिना वर्तमान परिवेश विश्व कप की जीतने की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। निःसंदेह भारत के सबसे सफलतम कप्तान माही इस विश्वकप में तुरुप का इक्का साबित हो सकते हैं। कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री ने तो पहले ही कह दिया है की धोनी विश्व कप में हमारे सबसे अहम खिलाडी होंगे। महान सचिन तेंदुलकर से लेकर सुनील गावस्कर और कपिल देव ने भी माना है की इस बार भर के विश्व कप विजय अभियान को धोनी ही सफल करवा सकते हैं।


तो आईये जानते हैं वो पांच कारण जो साबित करता है कि क्यों हैं धोनी भारतीय टीम के तुरुप का इक्का :


1. इनिंग बिल्डर : माही किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी कर सकते हैं। चौथे नंबर से लेकर उसके नीचे भी धोनी को परिस्थिति के अनुसार भेजा जा सकता है। अपने विशाल अनुभव से वो भारत की डगमगाती नैय्या को कभी भी पार लगाने का दमखम रखते हैं। हाई प्रेशर मैच में उनका कौशल भारतीय टीम के लिए काफी मददगार साबित हो सकती है।


2. मैच फिनिशर : इस में किसी को शक नहीं होगा की माही दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर हैं। चौथे और पांचवे क्रम पर आके मैच को समाप्त करने की उनमे बेजोड़ क्षमता है।


3. कप्तानी का अनुभव : वर्तमान कप्तान विराट कोहली के लिए धोनी जैसा सफलतम कप्तान टीम में होना किसी वरदान से कम नहीं है। विषम परिस्थितियों में भी माही का शांत स्वाभाव उनके कप्तानी की सफलता का सबसे बड़ा कारण रहा है। महेंद्र सिंह धोनी ऐसे विषम परिस्थितियों में कप्तान कोहली के काफी मददगार साबित होंगे। चाहे डेथ ओवर में बोलिंग किसे देने की बात हो या फिर फील्डिंग सेट करने की बात हो धोनी हर जगह विराट की मदद करते नजर आएंगे।


4. सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर : अभी दुनिया के सर्वश्रेष्ठ विकेट कीपर माने जाने वाले धोनी अपने गेंदबाजों को बखूबी जानते हैं। उन्हें गेंदबाजों से उनका बेहतरीन डलवाना आता है। इतना ही नहीं वो विपक्षी बल्लेबाजों की खामियां भी जानते हैं। और गेंदबाजों से सही वक़्त पर सही गेंद डलवा कर बल्लेबाजों को फ़साना भी उन्हें बखूबी आता है। उनकी तेज स्टंपिंग की तो दुनिया मुरीद है। मात्र 0.09 सेकंड में स्टंप करके उन्होंने साबित किया है की वो पालक झपकने से भी पहले स्टंप कर सकते हैं।


5. बैटिंग फॉर्म : हाल के आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी करते हुए माही ने बेहतरीन बल्लेबाजी की है। पिछले दो वर्षों में धोनी के खेलने का अंदाज भी काफी बदला है और वो भारत के लिए काफी रन बटोरते हुए नजर भी आये हैं। उनका फॉर्म भारतीय टीम के लिए काफी मददगार साबित होने वाला है। खासकर लो स्कोरिंग मैचों में , जिसके होने की संभावना इंग्लैंड में काफी अधिक है।